Motivational Story In Hindi Chamkoo Ke Buland Housle


Motivational story in hindi, motivational hindi story for success, success story hindi for students
Motivational Story In Hindi Chamkoo Ke Buland Housle
किसी छोटे से गांव में चमकू नाम का एक व्यक्ति रहता था |वह ज्यादा पढ़ा लिखा नहीं था, परंतु उसे चित्र बनाने का बहुत ही शौक था | वाह बहुत ही सुंदर चित्र बनाता था | चमकू एक पैर से अपाहिज था परंतु चमकू को कभी भी अपनी इस कमी का एहसास नहीं हुआ वह पूरी लगन के साथ अपना काम करता था |वह मटका बनाने का काम करता था | चमकू मटका बनाता और सूखने के बाद वह उसपर बहुत ही सुंदर चित्रकारी कर देता था जिससे चमकू का बनाया मटका दिखने में बहुत ही सुंदर लगता था | चमकू पूरी लगन और मेहनत के साथ अपना काम किया करता था | जब मटका बनकर तैयार हो जाता तो वह उसे पास के बाजार में बेचकर जो पैसे आते उसी से अपना पालन पोषण कर रहा था..
चमकू के दो भाई थे कालू और लालू | दोनों भाई चमकू पर बहुत ही अत्याचार किया करते थे | फिर भी चमकू चुप रहता था एक दिन चमकू के घर उसकी मौसी आई मौसी ने दोनों भाइयों से कहा अब चमकू की भी उम्र हो चुकी है|अब उसकी भी शादी हो जानी चाहिए इस पर दोनों भाई बोले उस लंगड़े से भला कौन शादी करेगा जिससे भी शादी होगी उसका भाग्य ही फूट जाएगा | ऐसा बोल दोनों भाई घर से बाहर चल दिये कुछ देर बाद वहां चमकू आता है | चमकू मौसी को प्रणाम करता है और कहता है मौसी आप कैसी हैं सब ठीक है ना
मौसी कहती है हां हां सब ठीक है तुम अपना बताओ चमकू क्या कर रहे हो आजकल | कुछ खास नहीं मौसी कुम्हार हूं और ज्यादा पढ़ा लिखा भी नहीं हूं इसलिए मटका बनाकर बाजार में बेच कर जो कुछ पैसे आते हैं उसी से अपनी जिंदगी गुजार रहा हूं मौसी चमकू से कहती है | देख चमकू तेरी उम्र भी अब हो चुकी है शादी की, मैं तेरी शादी करवाना चाहती हूं और मैंने एक लड़की भी देख रखी है | अब तू भी शादी करके अपना परिवार बसा ले | इतने में दोनों भाई वहां आ जाते हैं और हंसते हुए कहते हैं क्या मौसी तुझे इस लंगड़े की शादी करवाने कि इतनी जल्दी क्यों है दोनों भाइयों के मुंह से ऐसी बात सुन चमकू के दिल को बहुत ही ठेस लगती है..
तभी दूसरा भाई मौसी से कहता है मौसी अगर तुमने इसकी शादी करवा दी तो बाद में दोनों पति पत्नी भीख मांगने के सिवा काम कर भी क्या सकते हैं अब चमकू को गुस्सा आ जाता है | चमकू गुस्से में कहता है भैया इतना अहंकार ठीक नहीं, माना कि मैं आपसे छोटा हूं पर इसका मतलब यह तो नहीं कि आप कुछ भी कहोगे | अच्छा तो बता तू कर भी क्या सकता है ? तू भीख मांगने के सिवा और कर भी क्या सकता है ? जो तू मटके बेच कर पैसे कमाता है उससे तो तू खुद का गुजर बसर सही से नहीं कर सकता तो शादी के बाद तू अपना गृहस्थ जीवन कैसे चलाएगा मुझसे किसी प्रकार की कोई भी मदद की उम्मीद मत रखना मेरी बात मान तू शादी मत कर तू जिस लड़की से शादी करेगा उस बेचारी के तो भाग ही फूट जायेंगे और अंत में बेचारी को लोगों के कपड़े धोना बर्तन माझना पड़ेगा | चमकू को गुस्सा आ जाता है | और वह कहता है नहीं भैया यह तो समय ही बताएगा | मैं खूब कड़ी मेहनत करूंगा मैं एक दिन बड़ा आदमी जरूर बनूंगा ..।
मेरे एक पैर नहीं है तो क्या हुआ मेरे हौसले इतने मजबूत है कि अगर मेरे दोनों पैर भी नहीं होते तो भी मैं अपना और अपने परिवार का भरण पोषण जरूर कर लेता | अगले दिन चमकू मौसी को बस स्टेशन बैलगाड़ी से छोड़ने के लिए जाता है | मौसी को बस स्टेशन छोड़कर चमकू सीधे घर जाता है | जब चमकू घर के अंदर जाता है तो वहां चमकू के दोनों भाई और उसकी भाभी आपस में बातें कर रहे थे | तभी दोनों भाइयों में से दूसरा भाई बोलता है अगर चमकू की शादी हो गई तो बाबूजी की वसीयत के हिसाब से सभी भाइयों का बराबर बराबर हिस्सा लगेगा अगर चमकू की शादी नहीं होती है तो फिर सारा हिस्सा हम दोनों भाइयों का ही रहेगा इसलिए हमें चमकू की शादी नहीं करवानी है | यह सभी बातें चमकू बड़े ध्यान से सुन रहा था इतनी छोटी सोच हो सकती है यह तो मैं सपने में भी नहीं सोच सकता था | जमीन के कुछ टुकड़ों के लिए मेरे भाई इतना गिर सकते हैं यह तो मैं सोच भी नहीं सकता था | अब चमकू समझ आ चुका था कि आगे उसे क्या करना है | चमकू पहले से ज्यादा मटके बनाता मटके पर चित्रकारी करता और उसे बाजार में बेचकर अधिक धन कमाने लगा | पहले से ज्यादा चमकू को आमदनी होने लगी थी | इसी तरह से चमकू लगातार मेहनत करता जा रहा था | धीरे धीरे उसके बनाए मटके की मांग बढ़ने लगी | आसपास के गांव के लोग भी चमकू के बनाए मटके खरीदने लगे |
Motivational story in hindi, motivational hindi story for success, success story hindi for students
Motivational Story In Hindi Chamkoo Ke Buland Housle

दोनों भाई चमकू की इस तरक्की को देख कर बहुत जल रहे थे | एक दिन गांव में कुछ चित्रकार आए हुए थे जोकि गांव की सुंदरता और हरियाली का चित्र बना रहे थे तभी उन चित्रकारों में से एक चित्रकार की नजर चमकू पर जाती है उस चित्रकार को चमकू पर बहुत ही दया आती है वह चमकू के पास जाता है | तभी उसकी नजर चमकू के बनाए मटके पर जाती है | चित्रकार चमकू से पूछता है भाई यह सारे मटके पर जो चित्र बना है यह आपने बनाई है | चमकू ने उत्तर दिया जी हां यह चित्र मैंने ही बनाई है | चित्रकार चमकू से सवाल करता है | क्या आप इन चित्रों के अलावा और कोई चित्र बना सकते हो चमकू ने उत्तर दिया जी हां मैं किसी भी प्रकार का चित्र बना सकता हूं मुझे बचपन से ही चित्र बनाने का बहुत शौक है | मटका बनाना मेरा व्यवसाय है और मटके पर चित्र बनाना मेरा शौक है | इस प्रकार मैं अपने शौक को भी पूरा कर लिया करता हूं ..।
तभी चित्रकार चमकू से कहता है शायद आपको अपनी प्रतिभा के बारे में ज्ञान नहीं है | आप जो चित्र मटके पर बना कर उसे बेच कर 20 - 30 ₹ कमाते हो वहीं चित्र अगर आप बनाकर शहर में बेचोगे तो आपको पैसे और शोहरत की कोई कमी नहीं रहेगी | आप हमारे साथ शहर चलो और वहां चलकर आप अपनी प्रतिभा को लोगों के सामने रखो फिर देखो अगर एक बार आपको लोगों का प्यार मिलना शुरू हो गया तो फिर आपको किसी चीज की कोई कमी नहीं रहेगी | तभी चमकू कहता है | इतने बड़े अंजाम शहर में मैं यह सब कैसे करूंगा और फिर मैं ज्यादा पढ़ा लिखा भी तो नहीं हूं | तभी चित्रकार कहता है इंसान इंसान के काम आता है आप एक बार मुझ पर विश्वास करके शहर चलो या फिर आपको शहर जाने में कोई दिक्कत है तो फिर आप अपने गांव में ही रहकर चित्र बनाकर उसे ऑनलाइन बेच भी सकते हो चमकू सारा कुछ चित्रकार से सीख लेता है | चमकू तरह-तरह के चित्र बनाता और फिर उसे ऑनलाइन बेच देता इस प्रकार उसे अच्छा खासा मुनाफा होने लगा और जल्द ही चमकू का बनाया गया चित्र लोगों को बहुत पसंद आता है चमकू एक प्रसिद्ध चित्रकार बन जाता है | अब चमकू को किसी चीज की कोई कमी नहीं थी 

Motivational story in hindi, motivational hindi story for success, success story hindi for students
Motivational Story In Hindi Chamkoo Ke Buland Housle

चमकू की शादी मौसी उसी लड़की के साथ करवा देती है | दोनों खुशी खुशी अपने जीवन का निर्वाह कर रहे होते हैं |
Motivational story in hindi, motivational hindi story for success, success story hindi for students
Motivational Story In Hindi Chamkoo Ke Buland Housle

तभी चमकू को पता चलता है कि उसके दोनों भाईयो की शराब पीते - पीते किडनी खराब हो चुकी है चमकू अपने दोनों भाइयों को शहर के सबसे बड़े डॉक्टर को दिखलाता है | जल्द ही दोनों भाई स्वास्थ्य हो जाते हैं | अब दोनों भाइयों को अपनी गलती का एहसास होता है | तभी चमकू दोनों भाइयों से कहता है मैंने आपसे कहा था मैं एक दिन अमीर व्यक्ति जरूर बनूंगा और आज मैं अपने मकसद में कामयाब हो चुका हूं | आज मुझे किसी भी चीज की कोई कमी नहीं है | भगवान का दिया सब कुछ है, और यह सब मैंने अपने मेहनत और लगन के बलबूते पर हासिल की है | चमकू अपने दोनों भाइयों से कहता है | भाई आपको याद है मैंने आपसे कहा था ना मैं एक पैर से अपाहिज हूं अगर मैं दोनों पैरो से भी अपाहिज रहता तो भी मैं किसी के आगे भीख नहीं मांगता | क्योंकि अगर भगवान किसी से कुछ छिनता है तो उसके बदले कुछ जरूर देता है | अब दोनों भाइयों को अपनी गलती का एहसास होता है | और दोनों भाई चमकू से माफी मांगते हैं | चमकू भी अपनी दोनों भाइयों को माफ कर देता है..

दोस्तों इस कहानी से हमें यह शिक्षा प्राप्त होती है कि हमें जीवन में कभी भी किसी का मजाक नहीं उड़ाना चाहिए | किसी अंधे लंगड़े लुल्ले को देखकर नहीं हंसना चाहिए | क्योंकि ये जिंदगी भगवान की दी हुई है, और हर इंसान भगवान का बनाया हुआ है | भगवान का बनाया कोई भी चीज बेकार नहीं होता है ऐसे लोगों के अंदर भगवान प्रतिभा की कोई कमी नहीं छोड़ता है | ऐसे लोगों के पास गॉड गिफ्टेड टैलेंट होती है | इस कहानी से हमें ये भी शिक्षा मिलती है कि अगर हम कुछ पाने की ठान लें और आपकी इरादे मजबूत हो हौसले बुलंद हो तो आपको कामयाबी एक न एक दिन जरूर मिलेगी | जरूरत है बस सब्र की जी हां दोस्तों किसी भी काम को जब आप शुरू करते हैं तो कामयाबी पल भर में नहीं मिल जाती है कामयाब होने के लिए आपको खूब मेहनत करनी होती है | आप को सब्र करना होता है | हिम्मत नहीं हारनी है, जब तक आप अपनी मंजिल को हासिल ना कर लें तब तक आपको अपने हौसलों के चिराग को जलाए रखना है.।


दोस्तों अगर आपको हमारी Motivational story in hindi Chamkoo ke housle अच्छी लगी हो तो आप हमारे इस पोस्ट को व्हाट्सएप, फेसबुक और अपने दोस्तों के साथ शेयर करें ताकि लोक हमारी इस कहानी को पढ़कर मोटिवेट हो सके..

Comments